शुक्रवार, 20 अगस्त 2010


एक आवाज काफी है , धड़कने रुकने के लिए
उसकी आहट काफी है , मूड बदलने के लिए

---- painting by Raja Ravi verma